कोरोना महामारी का दूसरा साल ज्‍यादा घातक होगा, भारत की स्थिति चिंतित कर रही है: WHO चीफ

संयुक्त राष्ट्र। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयियस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने शुक्रवार को कहा कि भारत की कोविड-19 स्थिति चिंतित कर रही है, जहां कई राज्यों में संक्रमण के चिंतित करने वाली संख्या में मामले आ रहे हैं, अस्पतालों में लोग भर्ती हो रहे हैं और मौतें हो रही हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि महामारी का दूसरा साल दुनिया के लिए पहले साल के मुकाबले अधिक घातक होगा। WHO) के प्रमुख घेब्रेयियस ने कहा कि डब्ल्यूएचओ कोविड-19 के बढ़ते मामलों से निपटने में भारत…

वैज्ञानिक बोले, कोरोना के चीन की लैब से निकलने की थ्योरी नहीं कर सकते खारिज

लंदन। भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर पिछले कई सप्ताह से तबाही मचा रही है। रोजाना तीन लाख से ज्यादा नए संक्रमित मिल रहे हैं, जबकि हजारों लोगों की जान जा रही है। भारत ही नहीं, दुनिया के लगभग सभी देश कोरोना महामारी की चपेट में आ चुके हैं, लेकिन अभी तक किसी को पुख्ता तौर पर यह नहीं मालूम कि आखिर इसकी शुरुआत कैसे हुई। हालांकि, दुनिया के टॉप साइंटिस्ट्स के एक ग्रुप का कहना है कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति किसी लैब से होने वाली थ्योरी को…

WHO ने कहा- महामारी का दूसरा साल होने जा रहा है और भी जानलेवा, जानिए क्यों बच्चों को अभी वैक्सीन नहीं देने की अपील

संयुक्त राष्ट्र। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना महामारी का दूसरा साल और पहले से भी ज्यादा जानलेवा साबित होने जा रहा है। इसके अलावा अमीर देशों से अपील की गई है कि वे अभी बच्चों को टीका ना लगाएं, बल्कि गरीब देशों को टीका दें। ज्ञात हो कि, कानाडा और अमेरिका ने हाल ही में 12 से 15 वर्ष तक के बच्चों के टीकाकरण को मंजूरी दी है। WHO के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम ने कहा, ”महामारी का दूसरा साल पहले साल की तुलना में अधिक…

कोविड-19 : कोरोना वैक्सीन लगवा चुके लोगों को अमेरिका में मास्क पहनना अनिवार्य नहीं, बाइडेन बोले- रूल सिंपल है

वॉशिंगटन। कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में अब कोविड-19 को लेकर नए नियम आ गए हैं। अमेरिका में जिन लोगों ने कोरोना वैक्सीन लगवा ली है उन्हें अब मास्क पहनने की जरूरत नहीं है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन ने फैसला लिया है कि अमेरिका में जो भी लोग पूरी तरह से कोविड-19 वैक्सीनेट हो चुके हैं, उन्हें ना तो मास्क पहनने की जरूरत है और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करना जरूरी है। इस बात की पुष्टी अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल ऐंड प्रीवेंशन…

वॉशिंगटन हवाई अड्डे पर कस्‍टम जांच में भारतीय यात्री के बैग से मिले गाय के गोबर के उपले, जानें क्यों है ये प्रतिबंधित

वॉशिगंटन। वॉशिंटन हवाई अड्डे पर कस्‍टम विभाग के अधिकारियों को भारतीय यात्री के बैग से गाय के गोबर के दो उपले मिले। वाशिंगटन डीसी के उपनगर के एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भारत के एक यात्री के बचे हुए सामान में गोबर का उपला पाया गया। अमेरिका में उपला निषिद्ध हैं क्योंकि उन्हें फुट एंड माउथ डिजीज का वाहक के रूप में अत्यधिक संक्रामक माना जाता है। अमेरिकी सीमा शुल्क और सीमा सुरक्षा (सीबीपी) ने सोमवार को बताया कि उपलो को नष्‍ट कर दिया गया है। सीबीपी के कृषि विशेषज्ञों…

WHO बनाएगा कोरोना की दवा, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना होगा उद्देश्य

वाशिंगटन। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) तीन मौजूदा दवाओं के एक अंतरराष्ट्रीय का नैदानिक परीक्षण को फिर से शुरू करने के लिए तैयार है जो कोविड 19 के साथ अस्पताल में भर्ती लोगों की जान बचा सकता है। इस बार परीक्षण का उद्देश्य सूजन को कम करना और रोग प्रतिरोधक धमता बढ़ाना होगा। सॉलिडैरिटी नाम के क्लिनिकल ट्रायल की घोषणा पहली बार 18 मार्च को डब्ल्यूएचओ के डायरेक्टर जनरल ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयस ने की थी। नवीनतम परीक्षण में तीन दवाओं इन्फ्लिक्सिमाब, इमैटिनिब और आटेर्सुनेट का परीक्षण किया जाएगा जो सूजन को…

रेप होते समय हिंदू बच्ची कलमा पढ़ के मुस्लिम बन गई, अब नहीं जा सकती काफिर माँ-बाप के पास, पाकिस्तान से वीडियो वायरल

न्यूज़ डेस्क। पाकिस्तान में एक नाबालिग हिंदू लड़की को इ्स्लामी कट्टरपंथियों ने किडनैप कर 4 दिन तक उसके साथ गैंगरेप किया। जब बच्ची का रेप किया जा रहा था, तो वो कलमा पढ़ रही थी – यह रेप करने वालों ने बताया है। बलात्कारियों का कहना है कि वो कलमा पढ़ चुकी है, इसलिए उसे अब काफिरों (अपने हिंदू माँ-पिता) के पास लौटने का कोई अधिकार नहीं है। रेप पीड़िता बच्ची को इन्हें ही सौंप दिया जाए। घटना पाकिस्तान के सिंध प्रांत के कोट गुलाम मुहम्मद की है। सोशल मीडिया…

कोविड-19 : WHO की चेतावनी, पाबंदी में ढील दी गयी तो गहरा सकता है महामारी का संकट

जिनेवा। विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस के विभिन्न स्वरूपों के कारण मामले तेजी से बढ़ रहे हैं तथा साथ ही, देशों को आगाह किया कि प्रभावी कदम में जरा भी ढील से महामारी की स्थिति और गंभीर हो सकती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के आपात सेवा प्रमुख डॉ माइकल रेयान ने कहा कि वायरस तेजी से एक से दूसरे देश में फैलता है और जो नेता सोचते हैं कि टीकाकरण से ही महामारी खत्म हो जाएगी तो वे गलती कर रहे हैं।…

चीन के बेकाबू रॉकेट का मलबा 2 दिन में धरती पर गिरेगा, मच सकती है तबाही

न्यूयॉर्क। चीन पृथ्वी ही नहीं अंतरिक्ष में भी अपनी बादशाहत हासिल करने में जुटा पड़ा है लेकिन उसके परीक्षण अब धरती के लिए धीरे-धीरे खतरा बनते जा रहे हैं। चीन का एक विशालकाय रॉकेट अंतरिक्ष में बेकाबू हो चुका है और अब यह शनिवार तड़के तक धरती पर गिर सकता है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, चीन के पहले स्थायी अंतरिक्ष स्टेशन के मुख्य मॉड्यूल को कक्षा में लॉन्च करने वाले रॉकेट का सबसे बड़ा हिस्सा शनिवार तड़के किसी अज्ञात स्थान पर गिर सकता है। आमतौर पर पृथ्वी के वायुमंडल में घर्षण…

कोरोना को लेकर जागरूकता फैलाने के लिए WHO प्रमुख ने की प्रधानमंत्री मोदी की सराहना

न्यूज़ डेस्क। कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व की दुनिया भर में तारीफ हो रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम गेब्रेयसस ने प्रधानमंत्री मोदी के विश्व स्वास्थ्य दिवस पर दिए गए संदेश की सराहना की जिसमें उन्होंने कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सावधानी बरतने को कहा था। प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से प्रतिरक्षा शक्ति मजबूत करने और खुद को फिट रखने की अपील की थी। डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कोरोना प्रसार को लेकर जागरूकता फैलाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी की सराहना करते हुए…