किसान आंदोलन के समर्थन में फिरंगी ‘वाम प्रपंच’ के बाद एकजुट हुआ बॉलीवुड, अजय देवगन, अक्षय, सुनील शेट्टी समेत कई सितारों ने कहा- #IndiaTogether कर रहा है ट्रेंड

न्यूज़ डेस्क। किसान आंदोलन को लेकर भारत के खिलाफ हो रहे दुष्प्रचार पर अब बॉलीवुड भी आगे आता हुआ दिखाई दे रहा है। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अक्षय कुमार, अजय देवगन, सुनील शेट्टी, करण जौहर, एकता कपूर, कैलाश खेर और कई अन्य सितारों ने कई अंतरराष्ट्रीय हस्तियों द्वारा भारत के खिलाफ किए जा रहे दुष्प्रचार पर करारा जवाब दिया और भारत का समर्थन करते हुए एकजुटता दिखाई है।

दरअसल, पॉप सिंगर रिहाना और एक्टिविस्ट ग्रेटा थुनबर्ग के किसान आंदोलन को लेकर किए गए ट्वीट ने भारत में बहस को तेज कर दिया है। जिसके बाद बॉलीवुड अभिनेताओं ने सामने आकर सीधे शब्दों में ट्वीट करते हुए लोगों से आग्रह किया कि वे मतभेद पैदा करने वाले किसी भी चीजों पर ध्यान न दें। इसके बाद से ही ट्विटर पर #IndiaTogether (इंडिया टुगेदर) ट्रेंड कर रहा है।

विदेश मंत्रालय द्वारा ट्विटर पर साझा किए गए एक बयान का हवाला देते हुए अक्षय कुमार ने ट्विटर पर लिखा, ”किसान हमारे देश का एक अत्यंत महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। किसानों के मुद्दों को हल करने के लिए किए जा रहे प्रयास जगजाहिर हैं। मतभेद पैदा करने वाले किसी व्यक्ति पर ध्यान देने के बजाय एक सौहार्दपूर्ण संकल्प का समर्थन करें।” #IndiaTogether #IndiaAgainstPropaganda”

फिल्म निर्माता करण जौहर ने भी किसानों के विरोध पर वैश्विक हस्तियों की टिप्पणी पर ट्वीट करते हुए लिखा, ”हम अशांत समय में हैं और समय की आवश्यकता हर कदम पर विवेक और धैर्य अपनाने की है। आइए, हम मिलकर हर संभव प्रयास करें कि हम ऐसे समाधान निकालें जो सभी के लिए काम करें- हमारे किसान भारत की रीढ़ हैं। हमें किसी को भी विभाजित नहीं होने देना चाहिए।”

अजय देवगन ने ट्वीट कर लिखा, ”भारत या भारतीय नीतियों के खिलाफ किसी भी प्रकार के झूठे प्रचार की तरफ ध्यान न दें। ऐसे समय में जरूरी है कि हम सभी एकजुट रहें।”

एकता कपूर ने ट्वीट किया, “किसी भी प्रचार के खिलाफ एकजुट हो जाओ। एक साथ हम कर सकते हैं और हम करेंगे! #IndiaTogether #IndiaAgainstPropaganda”

वहीं बॉलीवुड अभिनेता सुनील शेट्टी ने विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, “हमें हमेशा चीजों का व्यापक दृष्टिकोण रखना चाहिए, क्योंकि आधे सच से ज्यादा खतरनाक कुछ भी नहीं है।”

इसके अलावा कैलाश खेर ने लिखा, ”बढ़ते वर्चस्व को देख भारत विरोधी किसी भी हद तक गिर रहे हैं। महामारी के इस दुखद दौर में भी भारत मानवता की खातिर कई देशों में वैक्सीन की आपूर्ति कर मदद कर रहा है। चलिए हम सभी महसूस करें कि भारत एक है और हम अपने देश के खिलाफ टिप्पणियों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।”

आपको बता दें कि पॉप गायिका रिहाना ने मंगलवार को एक खबर को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा था, “हम इसके बारे में बात क्यों नहीं कर रहे? इसके साथ उन्होंने Farmer’s Protest हैशटैग भी लिखा।” वहीं इस खबर को साझा करते हुए एक्टिविस्ट ग्रेटा थुनबर्ग ने भी प्रदर्शनकारियों के साथ अपनी ‘एकजुटता’ व्यक्त की थी।

गौरतलब है कि इस मामले पर विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करते हुए रिहाना और ग्रेटा थनबर्ग जैसे चर्चित लोगों के ट्वीट को लेकर कहा कि सनसनीखेज सोशल मीडिया हैशटैग और कमेंट्स को लुभाने का तरीका, खासकर यह मशहूर हस्तियों द्वारा किया गया हो, तो यह न तो सटीक है और न ही जिम्मेदाराना है। यह लोगों को लुभाने का आसान तरीका है।

इस संबंध में विदेश मंत्रालय ने आगे कहा, “इस तरह के मामलों पर टिप्पणी करने से पहले हम आग्रह करते हैं कि तथ्यों का पता लगाया जाए और मुद्दों की उचित समझ की जाए। भारत की संसद ने पूर्ण बहस और चर्चा के बाद कृषि क्षेत्र से संबंधित सुधारवादी कानून पारित किए।” हालाँकि इस दौरान मंत्रालय की ओर से विशेष रूप से किसी का नाम नहीं लिया गया है।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.