मुख्यमंत्री ने बांग्लादेश निर्माण में भारतीय सैनिकों के शौर्य और बलिदान को किया नमन

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पुलिस परेड ग्राउंड में आयोजित कवि सम्मेलन में आज की तिथि 16 दिसम्बर 1971 के ऐतिहासिक दिन का स्मरण करते हुए भारतीय सेना के शौर्य और बलिदान को नमन किया।

उन्होंने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नेतृत्व के कारण ही पाकिस्तान का इतिहास और भूगोल बदला और बंग्लादेश का जन्म हुआ। उनके इस नेतृत्व के कारण ही विश्व मे उनकी पहचान आयरन लेडी के रूप में हुई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि 17 दिसम्बर को हमारी सरकार के छत्तीसगढ़ महतारी की सेवा करते तीन वर्ष भी पूरे हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ की पहचान अब नक्सलगढ़ की बजाय छत्तीसगढ़ की संस्कृति, भगवान राम की महतारी और छत्तीसगढ़ की दुलारी बेटी माता कौशल्या के नाम से होती है। हमारे छत्तीसगढ़ में भगवान राम को भांजे के रूप में पूजा जाता है। उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी महामारी के बावजूद यहाँ की जनता का भरपूर सहयोग उन्हें मिला है।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.