अमेरिकी सैनिकों ने छोड़ा काबुल, अमेरिका ने तालिबान के हवाले किया ‘‘पूर्ण स्वतंत्र’’ अफगानिस्तान, तालिबान ने जश्न में की जमकर फायरिंग

वॉशिंगटन । तालिबान ने अमेरिकी सैनिकों के आखिरी समूह की वापसी के बाद अफगानिस्तान के ‘‘पूर्ण स्वतंत्रता’’ की घोषणा की। अफगानिस्तान की आजादी को लेकर यूएस जनरल केनेथ एफ मैकेंजी ने इस बात की घोषणा की। अमेरिकी सेना को ले जाने वाला आखिरी विमान सोमवार को अफगानिस्तान से रवाना हुआ, तालिबान के नेतृत्व वाले राष्ट्र से अमेरिकी सेना को वापस लेने के लिए 31 अगस्त की समय सीमा तालिबान ने दी थी। समय के अनुसार अमेरिका ने अपनी सेना वापस बुला ली है। अफगानिस्तान में तालिबान के साथ 20 साल के युद्ध के बाद, जिसमें लगभग 2,500 अमेरिकी सैनिक मारे गए और चार राष्ट्रपति पद पर रहे, आज यानी 31 अगस्त को समाप्त कर दिया गया।

अमेरिकी सैनिकों की वापसी आईएसआईएस-के आत्मघाती बम विस्फोट के बाद भी हुई है, जिसमें 26 अगस्त को 13 अमेरिकी सेवा सदस्यों सहित दर्जनों लोग मारे गए थे। अमेरिका ने शुक्रवार और रविवार को इस्लामी चरमपंथियों को निशाना बनाकर हवाई हमले किए। सैनिकों की निकासी मूल रूप से जुलाई में शुरू हुई थी, जिसमें सोमवार तक कम से कम 122,000 लोगों को अफगानिस्तान से निकाला गया था, जिसमें 5,400 अमेरिकी शामिल थे।

15 अगस्त को तालिबान द्वारा काबुल पर तुरंत नियंत्रण करने के बाद अमेरिकी सेना की मदद करने वाले अमेरिकियों और अफगान अनुवादकों को निकालने के लिए बाइडेन प्रशासन ने हफ्तों का समय बिताया है।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.