Yes Bank के ग्राहकों के लिए खुशखबरी, निकासी पर लगी पाबंदी हटी, पहले की तरह मिलेंगी बैंकिंग सुविधाएं

नई दिल्ली। Yes Bank के ग्राहकों के लिए खुशखबरी है। अब न तो 50 हजार से अधिक राशि की निकासी पर प्रतिबंध है और न ही कोई अन्य सेवाओं पर पाबंदी। ग्राहक को पहले की तरह सभी सुविधाएं मिलने लगी हैं। यस बैंक ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। बैंक ने ग्राहकों के सहयोग के लिए धन्यवाद कहा है। कुछ समय पहले RBI ने 50 हजार से अधिक की निकासी पर बैन लगा दी थी।

हालांकि सरकार लगातार कह रही थी कि घबराने की आवश्यक्ता नहीं है, जल्द ही सबकुछ सामान्य हो जाएगा। RBI ने Yes Bank के बोर्ड को भी तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया था और प्रशांत कुमार को नए बोर्ड का नेतृत्व सौंपा गया था।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। इसमें उन्होंने कहा था, मैं Yes Bank के जमाकर्ताओं को बताना चाहूंगा कि उनका पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है और चिंता की कोई बात नहीं है।

केंद्र सरकार ने शुक्रवार देर शाम Yes Bank की पुनर्गठन योजना 2020 को अधिसूचित कर दी थी। इसेस पहले RBI ने Yes Bank को तीन अप्रैल तक के लिए मोराटोरियम में डाल दिया था। RBI ने बैंक से अधिकतम निकासी सीमा एक महीने में 50,000 रुपये तय कर दी थी।

पुनर्गठन योजना के तहत SBI तीन साल तक बैंक में अपनी हिस्सेदारी को 26% से कम नहीं कर सकती, जबकि बैंक अन्य निवेशक तथा मौजूदा शेयरधारकों के 75% निवेश के लिए तीन साल का एक लॉक इन पीरियड होगा। हालांकि, 100 से कम शेयर रखने वाले शेयरधारकों पर लॉक इन पीरियड का नियम लागू नहीं होगा।

Yes Bank को संकट से निकालने के सरकार और रिजर्व बैंक के प्रयासों से निवेशकों का भरोसा और मजबूत हुआ है। मंगलवार को उसके शेयर करीब 63 फीसद तक उछल गए। निफ्टी में 10:51 बजे यस बैंक का शेयर 65.36% की उछाल के साथ 61.35 रुपये पर कारोबार कर रहा था। ती दिनों यह स्टॉक 100 फीसद उछल चुका है। इसके शेयरों में उछाल के पीछे मूडीज की रेटिंग भी एक बड़ी वजह है।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.