अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में छाये PM मोदी, ट्रंप ने की तारीफ़, कहा- भारत के लोग महान हैं और उन्होंने एक शानदार नेता चुना है, भारतीय-अमेरिकी मुझे करेंगे वोट

न्यूज़ डेस्क। अमेरिका में 3 नवंबर को राष्ट्रपति पद का चुनाव होना है। वहां की दोनों राजनीतिक पार्टियां भारतीय-अमेरिकियों को रिझाने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारतीय वोटरों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तारीफ करते दिखे। एक चुनावी सभा में डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के लोगों की प्रशंसा करते हुए कहा कि यहां के लोग महान हैं और उन्होंने एक शानदार नेता को चुना है। उन्होंने कहा कि उन्हें भारतीय लोगों और प्रधानमंत्री मोदी जैसे शानदार नेता का समर्थन प्राप्त है।

भारतीय-अमेरिकी मुझे ही करेंगे वोट: ट्रंप

भारतीय अमेरिकियों और प्रधानमंत्री मोदी के साथ अच्छे संबंधों का हवाला देते हुए, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें लगता है कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए तीन नवंबर को होने वाले मतदान में भारतीय अमेरिकी समुदाय के लोग उन्हें ही अपना वोट देंगे। ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी हमारे सबसे अच्छे मित्रों में से एक हैं और वे बेहद ही शानदार काम कर रहे हैं।

भारतीय-अमेरिकियों को लुभाने के लिए चीन पर भी हमला

भारतीय-अमेरिकियों को लुभाने के लिए ट्रंप अक्सर चीन पर भी हमला बोलते हैं। वे अक्सर हिंद प्रशांत में चीन के बढ़ रहे दखल को चिन्हित करते हुए भारत को समर्थन देने की बात करते हैं। उन्होंने इस दौरान चीन के आक्रामक रवैये पर एक बार फिर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इस समय रूस से भी अधिक चीन की चर्चा होनी चाहिए, क्योंकि वह जो काम कर रहा है वह कहीं ज्यादा खराब है। उन्होंने कहा कि चीन द्वारा उत्पन्न एक वायरस ने दुनिया भर के 188 देशों में तबाही मचा रखी है।

ट्रंप और मोदी की दोस्‍ती से बदल गया चुनावी समीकरण

अमेरिका में एक हालिया शोध से यह उजागर हुआ है कि भारतीय अमेरिकी जो पारंपरिक रूप से डेमोक्रेट के लिए वोट करते हैं, उनका झुकाव रिपब्लिकन पार्टी की ओर हुआ है। शोध में कहा गया है कि भारतीय अमेरिकी अब रिपब्लिकन पार्टी के लिए महत्‍वपूर्ण संख्‍या में तब्‍दील हो रहे हैं। इसके पीछे सबसे कारण PM मोदी और ट्रंप की दोस्‍ती है। भारतीय समुदाय के एक बड़े हिस्‍से में दोनों नेताओं की दोस्‍ती का बड़ा प्रभाव है। ट्रंप और PM मोदी की दोस्‍ती भारतीयों के बीच बहुत लोकप्रिय है।

ट्रंप ने लिया प्रधानमंत्री मोदी की दोस्‍ती का सहारा

इस बीच राष्‍ट्रपति ट्रंप के चुनावी अभियान से जुड़े लोगों का मानना है कि इसमें भारतीय एक महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। विशेष रूप से मिशिगन, पेंसिल्वेनिया और ओहियो जहां दो प्रतिद्वंद्वी अभियान हर वोट के लिए जूझ रहे होंगे। भारतीय वोटों के लिए ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी की दोस्‍ती का सहारा लिया है। बता दें कि अमेरिका में भारतवंसियों की संख्‍या करीब 40 लाख के पास है। इसमें से 20.5 लाख लोग मतदान के योग्‍य हैं।

ट्रंप परिवार ने भारत के प्रति अपने प्यार का किया इजहार

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के परिवार ने भारत के प्रति अपने प्यार का इजहार किया है। राष्ट्रपति ट्रंप ने इस बात का संकेत देते हुए बताया कि उनके दोनों बच्चे बेटी इवांका और बेटा डोनाल्ड ट्रंप जूनियर के साथ किंबरली गुइलफॉय भारत के बारे में काफी सोचते हैं। व्हाइट हाउस में रिपोर्टरों से ट्रंप ने कहा, ‘मुझे पता है और मैं इन युवाओं को समझता हूं । मुझे पता है कि भारत के साथ इनका संबंध काफी अच्छा है और वैसा ही मेरा भी है।’

भारतीय अमेरिकियों और भारत को बताया अच्छा मित्र

भारतीय अमेरिकियों व भारत का अच्छा मित्र बताने वाले राष्ट्रपति ट्रंप से व्हाइट हाउस में पूछा गया था कि चुनाव में उनके परिवार के इन तीन सदस्यों व भारतीय अमेरिकी समुदाय की क्या भूमिका होगी। सवाल था- ‘भारतीय अमेरिकियों के बीच पॉपुलर किबंरली, डोनाल्ड ट्रंप जूनियर और इवांका ट्रंप के लिए चुनावी कैंपेन में हिस्सा ले रहे हैं या नहीं।’ इसपर राष्ट्रपति ने कहा, ‘मैं इन भावनाओं की कद्र करता हूं। ये तीनों भारत के लिए काफी सोचते हैं और मैं भी। आपके प्रधानमंत्री मोदी को भी हम काफी याद करते हैं।’

ट्रंप परिवार ने भारतीय अमेरिकी समुदाय तक बनाई पहुंच

वर्ष 2016 के चुनावों में ट्रंप परिवार ने भारतीय अमेरिकी समुदाय तक पहुंच बनाई थी। विशेष तौर पर वर्जीनिया, पेनसिल्वानिया और फ्लोरिडा में जहां इवांका व ट्रंप जूनियर के साथ उनके दूसरे बेटे एरिक व बहु लारा ट्रंप ने समुदाय के सदस्यों से मुलाकात की थी और हिंदू मंदिरों में भी गए थे। भारत जाने वाली ट्रंप परिवार से पहली सदस्य उनकी बेटी इवांका थीं। 2017 में उन्होंने भारत में ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप समिट का नेतृत्व किया था।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.