ममता के मंत्री सिद्दीकुल्ला ने बंद किया राष्ट्रीय राजमार्ग, कोरोना वैक्सीन ले जा रहे वाहन को बदलना पड़ा मार्ग

कोलकाता। 16 जनवरी से देश में टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू होने वाली है, जिसके मद्देनजर देश के विभिन्न शहरों में वैक्सीन पहुंचाई जा रही है। ऐसे में पश्चिम बंगाल में भी वैक्सीन भेजी जानी थी लेकिन कृषि कानूनों के विरोध में राष्ट्रीय राजमार्ग बंद था, जिसकी वजह से वैक्सीन ले जाने वाले विशेष वाहन को रोक दिया गया।

पश्चिम बंगाल में भी कृषि कानूनों को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। ममता बनर्जी की कैबिनेट में राज्यमंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी की अगुवाई में बुधवार को राष्ट्रीय राजमार्ग बंद कर दिया गया। इस कारण बर्धमान जिले में कोरोना की वैक्सीन ले जाने वाले विशेष वाहन को रोक दिया गया।

बर्धमान के पुलिस अधीक्षक भास्कर मुखोपाध्याय ने कहा कि वैक्सीन ले जाने वाली इंसुलेटेड वैन को कोलकाता और नई दिल्ली को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद होने की वजह से एक गांव से पांच किलोमीटर की दूरी पर डायवर्ट किया गया था। कोलकाता में राज्य सरकार के वैक्सीन स्टोर से निकलने के बाद पूरवा बर्धमान जिला स्वास्थ्य कार्यालय में 31,500 वैक्सीन की खुराक दी गई।

इसके बाद वैक्सीन को बांकुड़ा और पुरुलिया में पहुंचाया जा रहा था लेकिन उससे पहले ही उसे रोक दिया गया। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने इस मामले को लेकर ट्वीट करते हुए कहा कि मंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी ने अपने राजनीतिक पाखंड के कारण आज कोरोनो वायरस वैक्सीन को अवरुद्ध कर दिया है। इस वजह से, वैक्सीन ले जाने वाले वाहन को मोड़ना पड़ा है। यदि किसी दुर्घटना या किसी अन्य कारण से वैक्सीन नष्ट हो गई तो कौन जिम्मेदार होगा?

बाद में इस मामले पर सिद्दीकुल्ला की भी प्रतिक्रिया आई। उन्होंने बताया कि उन्हें वैक्सीन वैन के आने के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। जब उन्हें इसकी जानकारी मिली तो सड़क को खाली कर दिया गया था लेकिन उससे पहले ही गाड़ी को डायवर्ट कर दिया गया था।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.