लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार की घोषणा- 25 मई से शुरू होगी घरेलू उड़ान सेवा

भारत न्यूज़

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के कारण देश में लॉकडाउन का चौथा चरण जारी है। इस बीच सरकार देश की रुकी हुई अर्थव्यवस्था को गति प्रदान करने धीरे-धीरे रफ्तार देने में जुटी हुई है। लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने रेलवे के बाद अब डोमेस्टिक फ्लाइट सर्विस शुरू करने का फैसला किया है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस बात की जानकारी दी है। देश के सभी हवाईअड्डों और डोमेस्टिक एयरलाइंस को 25 मई से पहले सभी तैयारी पूरी कर लेने के लिए कहा गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले सरकार ने ट्रेन चलाने का फैसला लिया था। पहले AC ट्रेन चलाए गए। अब रेलवे ने नॉन AC ट्रेन चलाने का भी फैसला किया है।

पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘घरेलू उड़ानों का परिचालन 25 मई, 2020 से क्रमिक तरीके से फिर शुरू किया जाएगा। सभी हवाई अड्डों और विमानन कंपनियों को 25 मई से परिचालन के लिए तैयार रहने को सूचित किया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘नागर विमानन मंत्रालय यात्री परिवहन के लिए मानक परिचालन प्रक्रियाएं (SOP) अलग से जारी कर रहा है।

रेल की तरह हवाई जहाज की यात्रा करते समय भी सोशल डिस्टेंसिंग और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के गाइडलाइंस का पूरा ख्याल रखा जाएगा। जल्द ही नागरिक उड्डयन मंत्रालय की तरफ से विस्तार से इसकी जानकारी दी जाएगी। हालांकि अभी आंशिक रूप से ही फ्लाइट सर्विस शुरू की जाएगी।

इससे पहले केंद्र सरकार के नए हवाई रूट खोलने के फैसला लिया था। इससे आने वाले दिनों में हवाई सफर के समय में 20-25 फीसदी का समय बच जाया करेगा। देश के भीतर उड़ान के रूटों के साथ साथ विदेशी रूटों पर भी अगर सरकार दूसरे देशों से बातचीत करे तो उड़ान का समय घटाया जा सकता है। पेशे से पायलट और विमानन क्षेत्र के विशेषज्ञ अरविंद सिंह ने हिन्दुस्तान से बातचीत में बताया था कि मौजूदा दौर में दिल्ली से तकरीबन सभी बड़े शहरों की उड़ान के लिए कई इलाकों से घूमकर जाना होता है।

पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘घरेलू उड़ानों का परिचालन 25 मई, 2020 से क्रमिक तरीके से फिर शुरू किया जाएगा। सभी हवाई अड्डों और विमानन कंपनियों को 25 मई से परिचालन के लिए तैयार रहने को सूचित किया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘नागर विमानन मंत्रालय यात्री परिवहन के लिए मानक परिचालन प्रक्रियाएं (SOP) अलग से जारी कर रहा है।

संबंधित समाचार

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.