वैश्विक महामारी कोरोना की जंग में भारत के वैक्सीन की विश्व भर में हो रही तारीफ़, WHO समेत पूरी दुनिया हुई मोदी की मुरीद, पढ़े किसने क्या कहा

न्यूज़ डेस्क। कहते हैं मुसबीत की घड़ी में जो आपका साथ दे वह सच्चा दोस्त होता है। भारत कोरोना महामारी के इस दौर में अपने पड़ोसियों के लिए इसी सच्चे दोस्त की भूमिका निभा रहा है। आबादी के लिहाज से दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश होने के बावजूद भारत लगातार अपने जरूरतमंद पड़ोसियों को कोरोना वैक्सीन भेज रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे ‘वैक्सीन मैत्री’ का नाम दिया था। भारत की इस दरियादिली की दुनियाभर में तारीफ हो रही है। अब खुद विश्व स्वास्थ्य संगठन के चीफ ट्रेड्रोस…

पीएम मोदी ने वाराणसी में कोविड-19, दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम अभियान में शामिल स्वास्थ्यकर्मियों से किया संवाद, टीके से जुड़े हर व्यक्ति को बधाई दी

न्यूज़ डेस्क। प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वाराणसी में कोविड टीकाकरण अभियान के लाभार्थियों और टीका लगाने वालों चिकित्साकर्मियों के साथ संवाद किया। प्रधानमंत्री ने इस कार्यक्रम से जुड़े बनारस के लोगों, सभी चिकित्सकों, अस्पतालों के मेडिकल स्टाफ, पैरा मेडिकल स्टाफ, स्वच्छता कर्मचारियों और कोरोना टीके से जुड़े हर व्यक्ति को बधाई दी। उन्होंने कोविड के कारण इस अवसर पर लोगों के साथ होने में असमर्थ रहने पर अफसोस प्रकट किया। उन्होंने कहा कि हमारे देश में आज दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम चल…

कोरोना टीकाकरण के दूसरे चरण में प्रधानमंत्री मोदी, सांसदों और मुख्यमंत्रियों को लगेगा कोरोना का टीका, अफवाहों को मिलेगा विराम सरकार देगी मजबूत संदेश

नई दिल्ली। नया साल भारत के लोगों के लिए नई उम्मीदें लेकर आया, जहां 16 जनवरी से कोरोना वायरस के खिलाफ राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान शुरू हो गया। इस अभियान के पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक की वैक्सीन दी जा रही है। इसके बाद दूसरे चरण का टीकाकरण अभियान शुरू होगा, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को टीका लगाया जाएगा। दरअसल टीकाकरण की शुरूआत से ही ये सवाल उठ रहे थे कि पीएम, केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री और अन्य बड़े…

जिन्हें शराब, सिगरेट या तंबाकू की बुरी लत है, उनसे जुड़ी कोरोना वैक्सीन की जरूरी बातें, कम से कम 45 दिनों तक रहना होगा दूर

हैदराबाद। कोविड -19 वैक्सीन की भारत में शुरुआत हो चुकी है। उम्मीद की जा रही है कि जल्दी ही ये आम लोगों के लिए भी सुलभ होगा। कुल मिलाकर कोरोना वैक्सीन को लेकर कोई भी बड़ी अप्रिय बात सामने नहीं आई है। इस दौरान विशेषज्ञ लगातार वैक्सीन से जुड़ी अहम बातों की जानकारी लोगों को दे रहे हैं। इन्हीं में शामिल है कोरोना वैक्सीन का असर शराब और सिगरेट का नशा करने वालों को कितना होता है? इस बारे में आधिकारिक विशेषज्ञों ने स्पष्ट किया है कि कोरोना वैक्सीन लेने…

कोविड-19: कोरोना टीके की शीशी खोलने के कितनी देर में हो जाना चाहिए पूरा इस्तेमाल, जानें क्या है विशेषज्ञों का कहना है

नई दिल्ली। कोरोना टीके की शीशी एक बार खुल जाने के बाद उसे चार घंटे के अंदर पूरी तरह इस्तेमाल करना होगा। ऐसा नहीं करने पर बाकी खुराक बेकार चली जाएगी और उसे नष्ट करना होगा। वरिष्ठ चिकित्सकों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके कोविशील्ड की पहली खेप 12 जनवरी को राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल (RGSSH) में पहुंची थी। भारत बायोटेक द्वारा निर्मित कोवैक्सीन टीके की खेप यहां अगले दिन पहुंची थी जिसका इस्तेमाल एम्स और आरएमएल अस्पताल समेत छह जगहों पर किया जा रहा…

पड़ोसी देशों के प्रमुख राजनेताओं ने भारत के कोविड-19 टीकाकरण अभियान के लिए पीएम मोदी को दी बधाई, पूरा विश्व कर रहा है भारत की प्रशंसा

न्यूज़ डेस्क। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने कोरोना महामारी के खिलाफ आखिरी वार करते हुए वैक्सीनेशन शुरू कर दिया है। भारत में बनी दोनों वैक्सीन पूरे देश में लाखों लोगों को लगाई जा चुकी हैं और लगातार लगाई जा रही हैं। इस उपलब्धि के लिए पूरा विश्व भारत की प्रशंसा कर रहा है। भारत के पड़ोसी देशों के प्रमुख राजनेताओं ने भी कोविड-19 के खिलाफ 16 जनवरी,2021 को टीकाकरण अभियान के सफल शुभारंभ के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत सरकार को शुभकामनाएं दी हैं। My heartiest…

ऐसे लोग बिल्कुल ही न लगवाएं कोवैक्सीन, भारत बायोटेक ने किया आगाह, साइड इफेक्ट पर मुआवजे का ऐलान

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जारी है और भारत के पास कोवैक्सीन और कोविशील्ड नामक दो हथियार हैं, जिनके जरिए कोरोना को हराया जा रहा है। भारत में भारत बायोटिक की कोवैक्सीन और सीरम की कोविशील्ड को आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिली है और इस तरह से देश में 16 जनवरी से टीकाकरण जारी है। हालांकि, इस बीच भारत बायोटेक ने एक फैक्टशीट जारी कर बताया है कि किन लोगों को कोवैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए। सोमवार को कंपनी की वेबसाइट पर अपलोडेड फैक्टशीट के माध्यम से…

कोविड-19 : बुजुर्गों से पहले युवाओं को टीके लगाना ठीक नहीं : WHO

जेनेवा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसस ने कहा है कि अमीर देशों में युवा तथा स्वस्थ लोगों को गरीब देशों में बुजुर्ग लोगों से पहले कोविड-19 टीके लगाना ठीक नहीं है। गेब्रेयेसस ने सोमवार को जेनेवा में स्थित WHO के मुख्यालय में संगठन की एक सप्ताह तक चलने वाली कार्यकारी बोर्ड की बैठक की शुरुआत करते हुए इस बात पर रोष प्रकट किया कि एक गरीब देश को टीके की मात्र 25 खुराकें प्रदान की गईं जबकि लगभग 50 अमीर देशों में 3 करोड़ 90 लाख…

अब आईसक्रीम को भी हुआ कोरोना, चीन में तीन सैंपल मिले पॉजिटिव

बीजिंग। दुनियाभर में इंसानों के बीच फैल रहा कोरोना वायरस अब आईसक्रीम तक भी पहुंच गया है। जी हां, आपने एकदम सही पढ़ा! मामला उत्तरी चीन के तियानजीन म्यूनिसिपैलिटी इलाके का है जहां महामारी के खिलाफ काम कर रहे अधिकारियों को तीन आईसक्रीम के सैंपल में कोरोना संक्रमण मिला है। अब प्रशासन उन लोगों की तलाश कर रहा है जो इन आईसक्रीम के संपर्क में आए थे। आईसक्रीम तियानजीन की Daqiaodao Food Company ने बनाई थी। अब संक्रमण की वजह से कंपनी को 2089 आईसक्रीम के डिब्बे नष्ट करने पड़े।…

Corona Vaccine: टीकाकरण की शुरूआत पर प्रधानमंत्री मोदी ने देश के लोगों को दीं ये 3 बड़ी हिदायतें

नई दिल्ली। भारत के स्वर्णिम इतिहास में 16 जनवरी 2021 का दिन दर्ज हो गया है, जहां देश कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में अंतिम दौर में पहुंच गया। शनिवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरूआत की। इस दौरान उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों और वैज्ञानिकों की मेहनत को सलाम किया। पीएम मोदी ने साफ किया कि ये वैक्सीन कोरोना महामारी के खिलाफ पूरी तरह से कारगर है। साथ ही देश की जनता को तीन अहम हिदायतें भी दीं। पहली हिदायत देते हुए पीएम मोदी…